एचआईवी का इलाज 2022? मात्र 1 दिन में ख़त्म होगा एड्स

आज दुनिया भर में करोडो की एड्स से जुडी जानलेवा बिमारी का सामना कर रहे है व इसके कारण कई लोगो को अब तक अपनी जान भी गवानी पड़ी है ऐसे में हर व्यक्ति इसके इलाज के बारे में जानने की चाहत रखता है की एचआईवी का इलाज क्या है और इस बीमारी से छुटकारा पाने के लिए क्या करें तो इसकी पूरी जानकारी हम आपको एचआईवी का इलाज 2022 आर्टिकल में देने वाले है

एचआईवी का इलाज

एचआईवी एक बहुत ही गंभीर समस्या है व इसमें इलाज के साथ साथ कई तरह की सावधानी बरतनी भी जरुरी है ताकि अन्य लोग इससे संक्रमित न हो सके अगर कोई भी व्यक्ति इस रोग से पीड़ित है तो उसे क्या करना चाहिए व इसके लक्षण क्या है, एचआईवी किसे तरह से होता है एवं इसका इलाज कैसे करें यह सभी जानकारी पाने के लिए आप एचआईवी का इलाज 2022 आर्टिकल को ध्यान से पढ़े

एचआईवी का इलाज 2022

एचआईवी संक्रमण को ख़त्म करने के लिए दुनियाभर में कई अलग अलग परिक्षण चल रहे है जिसमे से कई वैज्ञानिक इस बात का दावा भी करते है की उन्होंने इसकी दवाई बना ली है जिससे की एचआईवी रोग को ख़त्म किया जा सकता है

भारत समेत तमाम देशो में एचआईवी संक्रमण को बढ़ने से रोकने के लिए इलाज दिया अस्पताल में इलाज मौजूद है परन्तु इससे संक्रमण को ख़त्म नहीं किया जा सकता है अगर रोग डॉक्टर की सलाह्नुसार सावधानी बरते और बताई हुई दवाई समय पर ले तो इससे व्यक्ति लम्बी आयु तक जीवित रह सकते है

एचआईवी क्या है

एचआईवी का पूरा नाम ह्यूमन इम्यूनोडिफिशिएंसी वायरस (Human Immunodeficiency Virus)  है व यह एक ऐसा वाइरस है जो की एड्स के कारण बनता है यह वायरस किसी संक्रमित व्यक्ति के इम्यून सिस्टम पर हमला करके उसे डैमेज कर देते है

आप सभी जानते होगे की हमारे शरीर में रक्षा प्रणाली को इम्यून सिस्टम कहा जाता है जो की किसी भी प्रकार के वायरस और बैक्टीरिया से लडने में मदद करता है व इसके कारण हम स्वास्थ्य रहते है ऐसे में एचआईवी सीधा हमारे प्रतिरक्षा प्रणाली पर हमला करता है और इम्यून सिस्टम की कोशिकाओं  को कमजोर कर देता है

यह कोशिकाए श्वेत रक्त कोशिकाए होते है इन्हें सी डी 4 (CD4) सेल्स के नाम से भी जाता है ऐसे में अगर समय पर इलाज न लिया जाये तो HIV हमारे शरीर की रक्त कोशिकाओं को नष्ट कर देता है इससे हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता ख़त्म हो जाती है और व्यक्ति धीरे धीरे मौत के मुह में खीचा चला जाता है

कोई व्यक्ति अस्पताल या डॉक्टर से कोई दवाई या इलाज लेता है तो वो शरीर के इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाये रखने और स्वेत रक्त कोशिकाओं को बढाने के लिए होता है क्युकी शरीर में जितनी ज्यादा स्वेत रक्त कोशिकाए होगी व्यक्ति उतने ही लम्बे समय तक जीवित रह पायेगा

HIV को दो भागो में बात गया है जिसमे HIV 1 और HIV 2 दोनों तरह के HIV अलग अलग होते है जो निम्न प्रकार से है

  • HIV 1 – यह पूरी दुनिया में पाया जाता है जो आम है
  • HIV 2 – यह एशिया, यूरोप और पश्चिम अफ्रीका में अधिक पाया जाता है

एड्स क्या है

एड्स का अर्थ अक्वायर्ड इम्यूनोडिफिशिएंसी सिंड्रोम (Acquired Immunodeficiency Syndrome) होता है व यह एड्स का लास्ट स्टेज होता है क्युकी इसमें एचआईवी मानव की CD4 कोशिकाओं अर्थात स्वेत रक्त कोशिकाओं पर हमला करके उसे बुरी तरह क्षतिग्रस्त कर देता है इसके कारण शरीर एड्स की चपेट में आ जाता है इस स्थिति को अवसरवादी संक्रमण भी कहा जाता है

अगर किसी भी एड्स संक्रमित व्यक्ति की मृत्यु होती है तो वो अवसरवादी संक्रमण अर्थात लम्बे समय तक HIV के प्रभाव के कारण होती है यह व्यक्ति के शरीर को कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली को दर्शाती है इस कारण से लास्ट स्टेज में व्यक्ति के शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली अवसरवादी संक्रमण को रोकने में असमर्थ हो जाती है

HIV के लक्षण क्या है

HIV के कई मुख्य लक्षण है जिससे पता लगाया जा सकता है की कोई व्यक्ति इस प्रकार के वायरस से संक्रमित है या नहीं व इसकी सटीक जानकारी अस्पताल में HIV टेस्ट करवाने पर ही पता चल सकती है हम आपको इसके मुख्य लक्षण बता रहे है जो निम्न प्रकार से है

  • ग्रंथियों में सुजन आना
  • बुखार आना
  • गले में खराश होना
  • सर दर्द होना
  • चकते पड़ना
  • अधिक थकान आना
  • रात में ज्यादा पसीना आना

HIV में निम्न प्रकार के लक्षण देखने को मिलते है व अधिकाश लोग इस प्रकार के लक्षण दिखाई देने पर उसे गंभीरता से नहीं लेते क्युकी इसके लक्षण फ्लू और सर्दी से काफी मिलते झूलते होते  है

कई बार HIV संक्रमित व्यक्ति बिना किसी लक्षण के भी कई वर्षो तक जीवित रह सकता है इसलिए HIV का पता लगाने का एक मात्र तरीका है की HIV की जाँच करवाना

अगर किसी भी व्यक्ति में HIV के शुरूआती लक्षण दिखाई देते है तो उसे किसी भी नजदीकी अस्पताल में जाकर HIV की जाँच करवानी बेहद ही अनिवार्य है व भारत के सभी सरकारी अस्पताल में HIV की सम्पूर्ण जाँच निशुल्क की जाती है इसलिए कोई भी व्यक्ति बिना कोई पैसे खर्च किये भी HIV की जाँच करवा सकता है

HIV कैसे फैलता है

किसी भी व्यक्ति में HIV कई अलग अलग तरीको से फ़ैल सकता है हम आपको कुछ मुख्य कारणों के बारे में बता रहे है जिसके कारण HIV फैलने की संभावना काफी अधिक रहती है

  • संक्रमित व्यक्ति के साथ यौन सम्बन्ध बनाने से
  • संक्रमित व्यक्ति को लगाई गयी सुई, ब्लेड आदि इस्तमाल  करने से
  • संक्रमित माँ से शिशु मे जन्म से पहले या प्रसव के समय या प्रसव होने के तुरंत बाद
  • संक्रमित व्यक्ति के अंग प्रत्यारोपण से
  • संक्रमित व्यक्ति की सर्जरी में इसतमल किये गये औजार बिना साफ़ किये स्वास्थ्य व्यक्ति पर इस्तमाल करने से
  • संक्रमित माँ का शिशु को दूध पिलाने से शिशु भी संक्रमित हो जाता है

क्या एचआईवी का कोई इलाज है

एचआईवी का अभी तक कोई टीका या इलाज नहीं है इस संक्रमण को रोकने का सबसे अच्छा तरीका यही है की आप इससे बचाव के तरीके अपनाए जैसे की यौन सम्बन्ध बनाते वक्त निरोध का इस्तमाल करें, एचआईवी संक्रमित होने पर डॉक्टर से संपर्क करे और दवाईया ले, हमेशा नयी ब्लेड और सुई का इस्तमाल करें व किसी भी प्रकार की कोई शंका होने पर एचआईवी टेस्ट जरुर करवा ले

अगर आप एक एचआईवी रिपोर्ट से संतुष्ट नहीं है तो आप दुसरे अस्पताल में जाकर नयी एचआईवी रिपोर्ट भी बनवा सकते  है व दोनों में मिलान करके अपनी वास्तविक स्थिति का पता लगा सकते है

एचआईवी से बचाव के तरीके

आप कई अलग अलग तरीको से एचआईवी से खुद का बचाव कर सकते है इसके लिए आपको कुछ सावधानी बरतनी होती है जिसके बारे में हम आपको बता रहे है

  • अपने जीवन साथ के अलावा अन्य किसी से यौन सम्बन्ध न बनाये
  • यौन सम्बन्ध बनाते वक्त निरोध इस्तमाल करें
  • संक्रमित व्यक्ति पर इस्तमाल हुई सुई, ब्लेड आदि इस्तमाल न करें
  • संक्रमित महिलाए गर्भधारण न करें नही तो शिशु भी संक्रमित हो सकता है
  • अनजान या संक्रमित व्यक्ति से आवश्यकता पड़ने पर रक्त न ले व एचआईवी टेस्ट के बाद ही किसी का रक्त ले

हमेशा एक बात याद रखे की एड्स लाइलाज है इससे बचाव ही इसका उपचार है अगर कोई व्यक्ति एड्स से संक्रमित है तो उसका इलाज नहीं किया जा सकता बस उसे दवाईयों द्वारा कुछ अधिक समय तक जीवित रखा जा सकता है

किन चीजो से एड्स नहीं फैलता

कई लोग एड्स का नाम सुनकर काफी ज्यादा डर जाते है और संक्रमित व्यक्ति से बात करना भी बंद कर देते है जबकि इस दौर में संक्रमित व्यक्ति को दुसरो के साथ की जरुरत होती है ऐसे में हम आपको कुछ तरीके बता रहे है जिसके कारण एड्स एक व्यक्ति से दुसरे व्यक्ति में नही फैलता

  • पसीना
  • आँसू
  • लार (थूक)
  • मल (मलमूत्र)
  • मूत्र (पेशाब)
  • कीड़ो मकोडो के काटने से
  • स्वीमिंग पुल का इस्तमाल करने से
  • संक्रमित व्यक्ति के कपडे और टॉवेल इस्तमाल करने से
  • संक्रमित व्यक्ति को छुने से या उसके साथ काम करने से
  • संक्रमित व्यक्ति के साथ खाना खाने से
  • संक्रमित व्यक्ति के साथ छींकने से या खाँसने  से

निम्न परिस्थितियों में एक व्यक्ति से दुसरे व्यक्ति में एड्स नहीं फैलता इसलिए आप संक्रमित व्यक्ति से दुरी बनानी की बजाये इसके साथ समय बिताये व उसके साथ बाते करें ताकि संक्रमित व्यक्ति खुश रह सके

एड्स सबसे पहले किस देश में हुआ

वैज्ञानिको द्वारा एड्स की उत्पत्ति का पता लगाया जा चूका है व उनके अनुसार इस संक्रमण की उत्पत्ति किन्शासा शहर में हुई थी जो की  डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ़ कॉन्गो की राजधानी है व इस बीमारी के सामने आने के 30 साल बाद इसकी उत्पत्ति के बारे में पता चल पाया

एड्स FAQ

एड्स का पता कैसे लगाये?

एड्स का पता लगाने का एक ही तरीका होता है एचआईवी टेस्ट इसी के माध्यम से आप इस बीमारी का पता लगा सकते है

एचआईवी होने के लक्षण क्या है?

एचआईवी होने पर शुरूआती दौर में ज्यादातर लोगो में ग्रंथि में सुजन आना, थकान, सर दर्द, बुखार, खराश, उल्टिया होना, अचानक वजन कम  होना आदि लक्षण दिखाई देते है ऐसे लक्षण दिखाई देने पर तुरंत एचआईवी टेस्ट करवाना चाहिए

क्या एचआईवी का कोई इलाज है?

अभी तक एचआईवी का कोई भी इलाज नहीं है हालांकि दवाईयों के द्वारा मरीज को अधिक समय तक जीवित रखा जा सकता है पर सक्रमित व्यक्ति के शरीर से एचआईवी को पूर्ण रूप से ख़त्म नहीं किया जा सकता

एचआईवी टेस्ट कहा करवाए?

अगर किसी भी व्यक्ति को एचआईवी टेस्ट करवाना है तो वो किसी ही अस्पताल में जाकर इसका टेस्ट करवा सकता है व सभी सरकारी अस्पतालों में एचआईवी टेस्ट को निशुल्क रखा गया है

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको एचआईवी का इलाज 2022 के बारे में जानकारी दी है व इसके लक्षण क्या है व इससे कैसे बचाव करें इसके बारे में जानकारी दी है हमे उम्मीद है आपको हमारी बताई जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरुर करें और इससे जुडा किसी भी तरह का सवाल पूछना चाहे तो आप कमेंट के द्वारा भी बता सकत एही

Spread the love

Leave a Comment